Categories
Uncategorized

Cache Memory क्या है, इसका Benifit और Use

Cache Memory क्या है, इसका Benifit और Use – आज के समय में लगभग सभी के पास Smartphone है और लगभग सभी लोग किसी न किसी इंटरनेट Browser या App प्रयोग जरूर करते हैं। Smartphone या Browser का Use करने वाले लोग अक्सर Cache और Cookies Clear करते रहते हैं। हालांकि हम में से बहुतों को यह नहीं पता है कि Cache Memory क्या है और इसका क्या Benifit और Use है। आखिर Cache Memory को बार-बार Clear क्यों करना पड़ता है और यह हमारे Smartphone या Browser में अपने से क्यों आ जाता है। इस आर्टिकल में हम आपको इन सब सवालों के जवाब देने जा रहे हैं।

हमारे स्मार्टफोन में तीन प्रकार की मेमोरी स्टोरेज होती है: पहला Ram, जिस पर हमारे सभी ऐप इंस्टॉल होते हैं और रन करते हैं, दूसरा है Internal Storage, जिसमें हम अपना डाटा स्टोर करते हैं और तीसरा है External Storage, जिसे हम SD कार्ड से रूप में यूज करते हैं। SD Card में हम अपना Important Data Store करते हैं, जिसे हम बाहर निकाल कर रख दे सकते हैं।

लेकिन इन सबके अलावा हमारे स्मार्टफोन में एक प्रकार की मेमोरी और भी होती है जिसे Cache Memory कहते हैं। हालांकि यह Memory हमारे स्मार्टफोन में कहीं लगी नहीं होती है बल्कि यह स्मार्टफोन के Internal Storage में ही Store होती है। इसीलिए जब Internal Storage में बहुत अधिक केस Data Store हो जाता है तो हमारा स्मार्टफोन उसे Clear करने की Warning देता है।

Cache Memory क्या है?

Cache Memory न सिर्फ स्मार्टफोन में होते हैं बल्कि कंप्यूटर में भी होते हैं। यह एक प्रकार की Temporary File होती है, जो हमारे इंटरनल स्टोरेज में ही Store होती है। Cache Memory से हमारे कंप्यूटर या स्मार्टफोन को फास्ट स्पीड भी मिलती है। लेकिन इसे बार-बार डिलीट करने को क्यों कहा जाता है? इसका जवाब यह है कि जब हम स्मार्टफोन में किसी ऐप को बार-बार यूज करते हैं तो उसका लोडिंग स्पीड Cache Data पर ही निर्भर करता है।

इसीलिए जब आप Cache Data Clear करते हैं तो आपका ऐप पहली बार लोड होने में थोड़ा टाइम लेता है, लेकिन दूसरी बार से वह फिर से उसी तेजी के साथ ओपन होता है। Cache Data Clear करने को इसलिए आ जाता है क्योंकि इससे आपका इंटरनल स्टोरेज फुल हो सके। आप किसी आपको जितने दिन यूज़ करेंगे उतना ही Cache Memory बढ़ती चली जाती है।

Cache Memory का Use:

जब हम किसी स्मार्टफोन या कंप्यूटर पर कोई ऐप या सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करते हैं तो उसमें बहुत सारी चीजें आइकॉन के रूप में दिखाई देती हैं। आपने देखा होगा कि जब आप किसी ऐप आया सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करते हैं तो वह भी एक आइकन के रूप में दिखाई देता है। कुल मिलाकर यह कह सकते हैं कि जो भी फाइल संकेत देने के लिए बनी होती है उसे ही स्टोर करने के लिए Cache Memory का Use होता है। इसीलिए यदि आप किसी App को पहली बार ओपन करते हैं तो वह Load होने में अधिक टाइम लेता है क्योंकि वह सबसे पहले Cache Memory में Data Store करता है।

Read More: Click Here

By Technicalrab

Our team tries to explain every information to you in the language of your people and we hope that you will like every content written by us, you people will also share our content with us in large and people. Must do

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *